Thursday, 4 June 2020

राजस्थान सोलर पंप योजना कृषि कनेक्शन – रजिस्ट्रेशन


आज हम आपको “राजस्थान सोलर पंप योजना 2019” की जानकारी देने जा रहे है। यह राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमति वसुंधरा राजे जी के द्वारा शुरू की गई योजना है। इस योजना के तहत राजस्थान के सभी किसान भाइयो को सोलर पंप कृषि कनैक्शन योजना के तहत लाभ मिलेगा। आजकल कृषि करने के लिए कई प्रकार के कृषि उपकरण आ गए है। खेतो की सिंचाई के लिए हमे बिजली से चलने वाले पम्प का इस्तेमाल करना पड़ता था। जिससे की सभी किसानो को बहुत ज्यादा बिजली का बिल चुकाना पड़ता था। परंतु राजस्थान सोलर पम्प योजना के तहत आपके बिजली के बिल के पैसे बच जाएंगे। क्योकि सोलर पम्प को सूर्य की ऊर्जा से चलेगा। इससे किसानो के पैसे की बचत होगी। राजस्थान सोलर पम्प योजना 2019 के तहत किसानो को सबसिडी भी दी जाएगी।राजस्थान सोलर पंप योजना | Mukhyamantri Solar ...



तो अगर आप किसान भाई इस राजस्थान सोलर पम्प योजना के तहत कृषि कनैक्शन लेना चाहते है तो आपको रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। यह एक बहुत ही लाभकारी एवं महत्वपूर्ण योजना है।

राजस्थान सोलर पंप योजना 

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना राजस्थान की राज्य सरकार द्वारा चलाई गई एक सरकारी योजना है। जिसकी शुरुआत मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने की है। इस सोलर पंप योजना के तहत किसानो को कृषि कनैक्शन सबसिडी के तहत उपलब्ध करवाए जाएंगे। ताकि सभी और हर वर्ग का किसान इस योजना के तहत लाभ ले सके। तो अब हम आपको इस आर्टिक्ल के जरिये , राजस्थान सोलर पंप कृषि कनैक्शन के तहत पंजीकरण की जानकारी देने जा रहे है। हम आपको बताएँगे की कैसे आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद, सोलर पंप को अपने खेत मे इन्स्टाल करवा सकते है। अधिक जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढे।

मुख्यमंत्री राजस्थान सोलर पंप सबसिडी योजना के लाभ


सबसे पहले तो सोलर पंप योजना के तहत किसानो को कृषि कनैक्शन सबसिडी के आधार पर दिये जाएंगे।
यह सोलर पंप सूर्य की ऊर्जा से चलेंगे, तो इसमे आपकी बिजली जरा भी खर्च नहीं होगी।
अगर बिजली खर्च नहीं होगी, तो आपको बिजली का बिल भी नहीं देना होगा।
इस योजना के शुरू होने से किसानो को आर्थिक रूप से बहुत लाभ होगा।
राजस्थान की राज्य सरकार का इस योजना को शुरू करने के पीछे का उद्देश, किसानो के जीवन स्तर को ऊपर उठाना है।

राजस्थान सोलर पंप कृषि कनेक्शन योजना के लिए पात्रता

  • यह योजना का लाभ केवल राजस्थान के स्थायी निवासी किसान ही ले सकते है।
  • अगर कोई किसान 3 एचपी के सौर ऊर्जा कृषि कनैक्शन लेना चाहता है तो उसके पास कम से कम 0.5 हाइक्टेयर भूमि होनी चाहिए। और यदि 5 एचपी का सौर ऊर्जा कृषि यंत्र लगवाना है तो कांसे कम 1.0 हाइक्टेयर भूमि होना जरूरी है।
  • अगर ग्रीन हाउस या फिर शेड नेट है तो 3एचपी यंत्र के लिए 1000 मीटर और 5HP के लिए 2000 मीटर होना जरूरी है।
  • लोटनल मे 5.0 हाइक्टेयर और 0.75 हाइक्टेयर होना जरूरी है।
  • इसके लिए किसी भी वर्ग का किसान आवेदन कर सकते है।

सोलर पंप योजना के लिए दस्तावेज़ सूची

  1. किसान का स्थायी निवास प्रमाण पत्र ।
  2. किसान की वर्तमान की दो फोटो।
  3. आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड की कॉपी। असली भी साथ मे रखे आवेदन के समय तक।
  4. एफ़िडेविट ।
  5. तकनीकी रिपोर्ट, सौर पंप कार्यदार्यी की ।
  6. किसान की जमीन का पर्चा ।
  7. सिंचाई का स्त्रोत ।

राजस्थान सोलर पंप योजना कृषि कनैक्शन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

  1. राजस्थान सोलर कृषि कनैक्शन योजना 2019 के तहत आपको लाभ लेने के लिए पंजीकरण करवाना बहुत ही आवशयक है।
  2. कृषि कनैक्शन के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए आपको आधिकारिक वैबसाइट पे जाना जरूर है, यहा से आवेदन फॉर्म डाउनलोड करे।
  3. आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के समय 1000 रुपए शुल्क के रूप मे विद्युत निगम के संबन्धित सहायक अभियंता के पास जमा अकरवाने है।
  4. राज्य सरकार आपको इस योजना के तहत सोलर पंप लगवाने के लिए केवल 60% तक अनुसान देगी, और बाकी 40% किसान को अपनी तरफ से खर्च करना है।

      No comments:

      Post a comment